Dainik Navajyoti Logo
Sunday 19th of May 2019
स्वास्थ्य

फिटनेस और गेम्स का कॉम्बीनेशन पसंद आ रहा है शहरवासियों को

Monday, April 22, 2019 14:20 PM

जयपुर। शहर के पार्कों में हो रहे योगिक फिटनेस बूट कैम्प्स में भाग लेकर जयपुरवासी अपनी सेहत को अच्छा रखने के साथ साथ शरीर की इंटरनल पॉवर में इजाफा कर रहे हैं। योग में वह शक्ति है जिसे करके लोग मानसिक तौर पर न केवल रिलेक्स फील करते हैं बल्कि एक सकारात्मक ऊर्जा उनके अन्दर आ जाती है जिसकी वजह से पूरा दिन फिट रहते हैं।

सुबह का संगीत मन को भाता है
विधिवत रूप से योग की शिक्षा लेने वाले एक्सपर्ट हेमंत पारीक ने बताया कि बूट कैंम्प्स इन योग आसनों को रोचक व नए अंदाज में कराने का माध्यम बन गया है जिसकी वजह से बोरियत फील नहीं होती है और एक नए अंदाज में योग करने से लोग खुद को रिफ्रैश महसूस करते हैं। कभी सेन्ट्रल पार्क की हरी-भरी वादियों में तो सूर्योदय के समय लोगों को प्राणायाम, भ्रामरी अनुलोम विलोम सूर्य नमस्कार करना बहुत पसंद है। उस समय चिड़ियों की चहचहाट, प्रकृति की आवाजे और शांत वातावरण करने वालों में पॉजिटिव एनर्जी पैदा कर देता है।

योग करके एनर्जी लेवल बढ़ता है
फिटनेस योगिक बूट से लोगों को अलग-अलग जगह पर जाकर नेचर के रहकर योग कराने, बात करने से पूरा दिन निकल अच्छा निकलता है। कई बार रग्बी खेलते हैं, उसके बाद योग करते हैं यह बात युवाओं को आकर्षित करती है। बूट कैंप योग से हटकर पॉवर एक्सरसाइज को कैसे योगिक क्रियाओं के साथ करें इसलिए किया जाता है। कैंप में एक से डेढ़ घंटे का होता है क्योंकि आजकल हर कोई अच्छी फिटनेस को लेकर इन बूट कैंम्प्स को कर रहा है। पार्टनर वर्क आउट, एक्रो योगा, कुछ चैलेन्जेस देते हैं जिसको करके खूब मजा आता है।

इन कैम्प्स में 30 साल के युवाओं की भागीदारी के साथ स्वस्थ्य रहने के लिए लोग आते हैं। शरीर की स्टैमिना व स्ट्रैंथ बढ़ने के साथ उनको मेंटली रिलैक्स फील होता है जिससे मन एकाग्र होकर डीस्ट्रैस एनर्जी लेवल बढ़ता है। योग करने के बाद थकान दूर होने के साथ एनर्जी लेवल बहुत हाई हो जाता है।