Dainik Navajyoti Logo
Thursday 22nd of August 2019
शिक्षा जगत

पिछले 9 साल से राजस्थान दे रहा है ऑल इंडिया टॉपर

Friday, July 19, 2019 13:25 PM

जयपुर। आईआईटी, एम्स और नीट प्रवेश परीक्षा से देश के बेहतर संस्थानों में प्रवेश के लिए की जाने वाली तैयारी को लेकर परिप्रेक्ष्य बदलने लगा है। इस बीच इंजीनियरिंग व मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं के लिए अलग-अलग शहरों में दौड़ लगाने की बात अब पुरानी हो गई। अब इन दोनों परीक्षाओं की तैयारी के लिए राजस्थान सबसे श्रेष्ठ शहर सिद्ध हो गया है और यहां से टॉपर्स के आंकड़े भी दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है। पिछले वर्षों में जारी हुए गुणवत्तापूर्ण परिणामों ने इसे साबित कर दिया है।

कोटा कोचिंग नगरी देश का एकमात्र ऐसा शहर है। जहां से इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा हो या मेडिकल प्रवेश परीक्षा दोनों में स्टूडेंट्स टॉप कर रहे हैं और यह सिलसिला चल रहा है, एक या दो बार नहीं, बल्कि अब तक 15 आॅल इंडिया टॉपर दिए हैं। इनमें तीन बार ऐसा भी हुआ जब आईआईटी व मेडिकल दोनों प्रवेश परीक्षाओं के टॉपर एक साथ कोटा कोचिंग ने दिए। तीनों बार यह रिकॉर्ड यहां बनाया है, यहीं नहीं 15 में से 9 बार आॅल इंडिया टॉपर देने का कीर्तिमान भी हासिल किया है।

एक साथ छह टॉप
पिछले छह वर्षों में तीन बार आईआईटी जेईई व मेडिकल प्रवेश परीक्षा में एक साथ छह आॅल इंडिया टॉपर दिए हैं। बड़ी बात यह कि तीन बार दोनों परीक्षाओं में एक साथ आल इंडिया टॉपर आए। इंजीनियरिंग व मेडिकल दोनों प्रवेश परीक्षाओं में आॅल इंडिया टॉपर संभवत: अन्य किसी के इतिहास का नहीं रहा है। इसके अलावा 9 वर्षों में देश को 9 आॅल इंडिया टॉपर भी दिए हैं।

इस साल सबसे अधिक
सन् 2019 में आयोजित इंजीनियरिंग व मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में सबसे ज्यादा टॉपर भी एक ही संस्थान से है। नीट में टॉप 10 में 8 एवं टॉप 100 में 60 विद्यार्थी एक संस्थान से रहे। जेईई एडवांस्ड  में टॉप 10 में 3, टॉप 20 में 8, टॉप 50 में 20 एवं टॉप 100 में 38 विद्यार्थी है। इसी प्रकार एम्स में टॉप 10 में 9 एवं टॉप 50 में 40 विद्यार्थी एक ही संस्थान से रहने का रिकॉर्ड भी कायम किया।

इन्होंने हासिल की एआईआर प्रथम रैंक
सन् 2014 में चित्रांग मूर्दिया जेईई-एडवांस्ड टॉपर और तेजस्विन झा एआईपीएमटी टॉपर रहे। वर्ष 2016 एलन अमन बंसल जेईई-एडवांस्ड टॉपर तथा हेत संजय शाह नीट आॅल इंडिया टॉपर रहे। इस साल जेईई-एडवांस्ड व नीट में आॅल इंडिया 1, 2, 3 - 1, 2, 3 रैंक रही। वर्ष-2019 कार्तिकेय गुप्ता जेईई-एडवांस्ड तथा नलिन खंडेलवाल नीट में टॉपर रहा।

ऐसा शुरू हुआ सिलसिला
पहला टॉपर वर्ष 2010 में आया, तब मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट को एआईपीएमटी कहा जाता था। एआईपीएमटी में विद्यार्थी लोकेश अग्रवाल ने देश में टॉप किया था। फिर नीट 2013 में आयुष गोयल, एआईपीएमटी 2014 में तेजस्विन झा, नीट 2016 में हेत संजय शाह, एम्स 2017 में निशिता पुरोहित एवं नीट 2019 में नलिन खण्डेलवाल ने आॅल इंडिया टॉप किया था। इसी प्रकार इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई एडवांस्ड में 2014 में एलन के स्टूडेंट चित्रांग मूर्डिया, जेईई एडवांस्ड 2016 में अमन बंसल एवं जेईई एडवांस्ड 2019 में कार्तिकेय गुप्ता आॅल इंडिया टॉपर रहे।