Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of October 2019
भारत

बेरोजगारी के मुद्दे पर बयान देकर घिरे संतोष गंगवार, प्रियंका, मायावती ने बोला हमला

Sunday, September 15, 2019 18:25 PM
प्रियंका गांधी और मायावती (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार बेरोजगारी के मुद्दे पर अपने बयान पर घिर गए हैं। कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी, आम आदमी पार्टी समेत कई विपक्षी दलों ने केंद्रीय मंत्री द्वारा इसे उत्तर भारतीयों का अपमान बताया है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने गंगवार पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि मंत्रीजी 5 साल से ज्यादा समय से आपकी सरकार है। नई नौकरियां पैदा नहीं हुईं, बल्कि जो नौकरियां थीं वो सरकार द्वारा लाई आर्थिक मंदी के चलते छिन रही है। नौजवान रास्ता देख रहे हैं कि सरकार कुछ अच्छा करे। आप उत्तर भारतीयों का अपमान करके बच निकलना चाहते हैं। ये नहीं चलेगा।

वहीं मायावती ने कहा कि देश में छाई आर्थिक मंदी आदि की गंभीर समस्या के संबंध में केंद्रीय मंत्रियों के अलग-अलग हास्यास्पद बयानों के बाद अब देश व खासकर उत्तर भारतीयों की बेरोजगारी दूर करने के बजाए यह कहना कि रोजगार की कमी नहीं बल्कि योग्यता की कमी है, अति-शर्मनाक है जिसके लिए देश से माफी मांगनी चाहिए। वहीं आप नेता संजय सिंह ने भी मोदी के मंत्री के बयान को उत्तर भारतीयों का अपमान बताते हुए कहा कि इस सरकार में ही योग्यता की कमी है। मंत्री बताएं कि चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार है। संजय सिंह ने कहा कि संतोष गंगवार खुद ही उत्तर भारत से आते हैं, ऐसे में इस तरह के बयान का क्या मतलब है। 

बता दें कि बरेली से सांसद तथा केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने शनिवार को बरेली में प्रेंस कॉन्फ्रेंस में उत्तर भारत के लोगों की योग्यता पर ही सवाल खड़े कर दिया था। केंद्र सरकार के सौ दिन पूरे होने पर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार सरकार की उपलब्धियां गिनाने के दौरान उन्होंने कहा कि देश में रोजगार और नौकरियों की कोई कमी नहीं है, बल्कि जो भी कंपनियां रोजगार देने आती हैं, उनका कहना होता है कि उन युवाओं में योग्यता नहीं है। मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है।