Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of October 2019
जयपुर

प्राइवेट कॉलेज खोलना अब होगा आसान

Tuesday, September 17, 2019 09:40 AM
भंवर सिंह भाटी (फाइल फोटो)

जयपुर। प्रदेश में प्राइवेट कॉलेज खोलने वालों के लिए खुशखबरी है। अब वह राज्य में शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में आसानी से नई कॉलेज खोल सकते है। राज्य सरकार ने इन संस्थानों को कई मुद्दों पर राहत प्रदान की है। उच्च शिक्षा विभाग की ओर से निजी संस्थाओं के लिए नई पॉलिसी जारी करने के साथ ही आॅनलाइन आवेदन भी शुरू कर दिए हैं।

आवेदन 31 अक्टूबर तक किए जा सकेंगे। पॉलिसी में राज्य के टीएसपी क्षेत्र में कमीपूर्ति अभाव में आरोपित सत्र 2020-21 के लिए शास्ति राशि में 50 फीसदी की छूट प्रदान की जाएगी। गौरतलब है कि इससे पहले निजी संस्थाओं को संबंद्धता प्राप्त करने के लिए एक लंबी प्रक्रिया की पालना करनी होती थी। अब विभाग ने इन नियमों में कुछ शिथिलता दी है।

भूमि मापदण्ड किए आधे
नई पॉलिसी में विकास प्रधिकरण वाले जिले अजमेर एवं जोधपुर में भूमि मापदण्ड 4000 वर्ग मीटर से कम करते हुए 2000 वर्ग मीटर किया गया। अन्य संभाग स्तर पर भूमि मापदण्ड चार हजार वर्ग मीटर से कम करते हुए तीन हजार वर्ग मीटर किया गया।

किराए के भवन में भी राहत
उच्च शिक्षा विभाग ने किराये के भवन में कक्षा-कक्षों व प्रयोगशालाओं के लिए निर्धारित आकार में ग्रामीण क्षेत्र में 50 और शहरी क्षेत्र में तीस फीसदी की छूट प्रदान की गई है।

एनओसी के लिए कैलेण्डर
सरकार ने एनओसी (अनापत्ति प्रमाण पत्र) जारी करने की समयबद्धता के लिए कैलेण्डर जारी कर दिया है। साथ ही आवेदन में कमीपूर्ति करने के लिए विभाग एसएमएस की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। वहीं फीस चार्ट व संकाय सदस्यों की सूचना कॉलेज वेबसाइट व सूचना पट्ट पर चस्पा करना अनिवार्य होगा।

निजी महाविद्यालयों को सरकारी संबंद्धता के लिए सरकार स्तर पर कई राहत दी है, जिससे निजी कॉलेज आसानी से शुरू हो सकें।
- भंवर सिंह भाटी, उच्च शिक्षामंत्री, राज्य सरकार