Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of October 2019
राजस्थान

गहलोत का रूपाणी पर पलटवार, कहा- गुजरात में शराब नहीं मिली तो छोड़ दूंगा राजनीति

Wednesday, October 09, 2019 18:10 PM
अशोक गहलोत और विजय रुपाणी (फाइल फोटो)

जयपुर। गुजरात में शराबबंदी को लेकर दिए बयान पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी आपस में भीड़ गए हैं और दोनों में वार-पलटवार शुरू हो गया है। दोनों नेता पिछले कुछ दिनों से जमकर बयानबाजी कर रहे हैं। गहलोत ने रुपाणी पर पलटवार करते हुए बड़ी चुनौती दे डाली है। गहलोत ने कहा कि अगर गुजरात में शराब नहीं मिलती है तो वह राजनीति छोड़ देंगे और अगर शराब मिल जाए तो रूपाणी को राजनीति छोड़ देनी चाहिए।

बता दें कि 5 अक्टूबर को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर में एसएमएस अस्पताल के एक कार्यक्रम में शराबबंदी को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा था कि शराबबंदी करने का कोई फायदा नहीं होता है। गुजरात में आजादी के बाद से ही शराबबंदी है, लेकिन वहां सबसे ज्यादा शराब की खपत होती है और घर-घर में शराब मिलती है। इसके बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि गहलोत ने ऐसा कहकर साढ़े छह करोड़ गुजरातियों का अपमान किया है, उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

इसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विजय रूपाणी पर पलटवार करते हुए कहा कि रूपाणी साबित कर दें कि गुजरात में शराब आसानी से नहीं मिलती है तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा और अगर वहां शराब आसानी से मिल जाने की बात साबित हो जाए तो रूपाणी राजनीति छोड़ दें। गहलोत ने कहा कि गुजरात में आजादी के बाद से शराबबंदी है, लेकिन किसी से भी पूछ लीजिए वहां आसानी से शराब मिल जाती है, यह बात गुजरात के लोग जानते हैं, चाहे वह शराब पीते हों या फिर नहीं पीते हों।