Dainik Navajyoti Logo
Thursday 19th of September 2019
राजस्थान

वादों पर चुनाव लड़े जाते हैं, नरेन्द्र मोदी धर्म के नाम पर लड़ते हैं: अशोक गहलोत

Saturday, May 18, 2019 00:45 AM

जोधपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर अपने गृह जिले जोधपुर में जमकर हमला बोला। उन्होंने पीएम मोदी व भाजपा अध्यक्ष शाह की प्रेस कांफ्रेस पर टिप्पणी करते हुए कहा कि दोनों ही मीडिया के सामने हंसी के पात्र बने हैं इससे ज्यादा कुछ भी नही। पांच साल तक कभी मोदी मीडिया के सामने नहीं आए और अब मीडिया के सामने आए तो किसी योजना और विकास पर बात नहीं की।


प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जोधपुर प्रवास के दौरान सामाजिक सरोकार निभाने के बाद जब जोधपुर से दिल्ली के लिए रवाना हुए तो एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत करते हुए नरेन्द्र मोदी सरकार और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर जमकर हमला बोलते हुए राफेल मुद्दे पर कहा कि कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी को चैलेंज दिया था तो मोदी डिबेट में हमारे साथ क्यों नहीं आए। क्यों वो राफेल मुद्दे को लेकर जवाब नहीं दे रहे ।


उन्होंने मोदी पर मुद्दों की राजनीति नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वादों पर चुनाव लड़े जाते हैं पर नरेन्द्र मोदी धर्म के नाम पर चुनाव लड़ते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए लाभ उठा रहे है। जबकि सर्जिकल स्ट्राइक तो सेनाओं ने की है और पूरे देश को सेनाओं पर गर्व है और यह गर्व अभी से नहीं 1965 या फिर 1971 का वार हो या फिर कारगिल सेनाओं पर हमेशा से ही गर्व रहा है। तब भी सेनाओं ने शौर्य और पराक्रम में कोई कमी नहीं रखी ।


हमारी देश की सेनाओं ने देश का सिर हमेशा ऊंचा रखा है। गहलोत ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार के पास कहने को कुछ भी नहीं है।  गहलोत ने भाजपा सरकार पर इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी और वसुंधरा सरकार ने इतिहास से छेड़छाड़ का काम किया है। आजादी की जंग में अंगुली तक भाजपा ने नहीं कटाई। खुद ने इतिहास नहीं बनाया तो दूसरों के इतिहास से छेड़छाड़ कर रहे हैं। जो इतिहास से छेड़छाड़ करेंगे व खुद कभी अपना इतिहास नहीं बना पाएंगे ।


मुख्यमंत्री ने ब्रिगेडियर शक्तिसिंह की पत्नी के निधन पर दुख प्रकट किया
शनिवार को मुख्यमंत्री ने  पावटा में वीर दुर्गादास नगर में ब्रिगेडियर शक्तिसिंह के घर गये व उनकी पत्नी मोहन कंवर के निधन पर गहरा दुख प्रकट किया व ढांढस बंधाया। उनके साथ विधायक मनीषा पंवार, विधायक महेन्द्रसिंह विश्नोई, पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़, पूर्व जेडीए चेयरमैन राजेन्द्रसिंह सोलंकी, मेजर जनरल शेरसिंह, मारवाड़ राजपूत सभा के अध्यक्ष हनुमानसिंह खांगटा, पूर्व पार्षद रामसिंह सांजू व प्रो. डीएस खींची ने गहरा शोक व्यक्त किया ।