Dainik Navajyoti Logo
Thursday 19th of September 2019
राजस्थान

कटारिया का सरकार पर आरोप, बंद हो पुलिस के काम में राजनीतिक हस्तक्षेप

Wednesday, September 11, 2019 10:05 AM
गुलाबचंद कटारिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सरकार पर साधा निशाना।

जयपुर। नेता प्रतिपक्ष और पूर्व गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कांग्रेस सरकार पर प्रदेश की कानून व्यवस्था की सात माह में धज्जियां उड़ने का आरोप लगाते हुए सलाह दी है कि व्यवस्था को सुधारना है तो पुलिस के काम में सरकार राजनीतिक हस्तक्षेप बंद करे। कटारिया ने मंगलवार को भाजपा ऑफिस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा है कि प्रदेश में केवल सरकार बदली है, पुलिस वाले और अधिकारी वहीं हैं। फिर भी क्राइम में बढ़ोतरी क्यों हो रही है, क्योंकि राजनीतिक हस्तक्षेप काम में बढ़ गया है। एसपी से बिना पूछे कांस्टेबल का तबादला हो जाए तो फिर वह एसपी की कैसे सुनेगा। सरकार छह माह तक अच्छे एसपी जिलों में लगाएं। उन्हें काम करने की आजादी मिले तो कानून व्यवस्था सुधरेगी। साथ ही दागी अधिकारियों और कर्मियों पर सख्त कार्रवाई की जाए।

कटारिया ने आरोप लगाया कि सात माह के कार्यकाल में अपराधों का ग्राफ 85 फीसदी बढ़ गया है। दावा किया कि भाजपा सरकार के वक्त आईपीसी के अपराध 13 फीसदी घटे थे। महिला, एससी-एसटी सहित सभी अपराधों में बढ़ोतरी होने का दावा आंकड़ो सहित उन्होंने किया। जयपुर में ही दो माह में छह बार कम्यूनल टकराव हो गए। थानों में पुलिसकर्मी ट्रेप हो रहे हैं। बहरोड़ की घटना तो प्रदेश को शर्मसार करने वाली है। कहा कि गृह विभाग को संभालने के लिए सरकार को समय नहीं मिलता तो एक सहयोगी को उन्हें मॉनिटरिंग के लिए लगा लेना चाहिए।

पूर्व सीएम के बंगला प्रकरण पर हो कोर्ट के फैसले का सम्मान
पूर्व सीएम के बंगलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले को क्रियान्वित किए जाने को लेकर कटारिया की राय पूछी गई तो उन्होंने कहा कि कोर्ट के फैसले का सम्मान होना चाहिए। कानून के तहत जो रिलीफ मिलती है तो दी जा सकती है, लेकिन फैसला का सम्मान होना चाहिए।