Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 18th of September 2019
बिज़नेस

राजस्थान को अधिक फण्ड दिया जाए : फोर्टी

Tuesday, September 10, 2019 11:20 AM
प्रदेश के उद्योग-व्यापार जगत के संगठनों के पदाधिकारियों ने दिए सुझाव।

जयपुर। वित्त आयोग की बैठक में प्रदेश के उद्योग-व्यापार जगत के संगठनों के पदाधिकारियों ने मुलाकात कर, सुझाव प्रदान किए। फोर्टी अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल ने बताया की राजस्थान के व्यापारिक दृष्टिकोण को देखते हुए फोर्टी ने कुछ महत्वपूर्ण सुझाव फाइनेंस कमीशन को दिए है, राजस्थान की भौगोलिक स्थिति एवं डार्क जोन की वजह से केन्द्र सरकार की कृषक की आय दोगुनी करने के संकल्प के लिए राजस्थान को एडिशनल फण्ड की आवश्यकता है जिसमें मुख्य रूप से बंजर एवं रेगिस्तानी जमीन को कृषि योग्य जमीन बनाने, जल भंडारण और जल संचयन, कृषि के साथ-साथ उद्योगों के लिए पानी की उपलब्धता के लिए अधिक फण्ड की आवश्यकता है। फोर्टी सरंक्षक सुरजाराम मील ने बताया की राजस्थान में हैंडीक्राफ्ट, मिनरल्स, जैम्स एण्ड जैवेल्री और टेक्सटाइल जो कि मुख्य प्रोडक्ट्स है इनके इंटरनेशनल मार्केटिंग और एक्सपोर्ट इंसेंटिव के लिए एडिशनल फण्ड चाहिए। डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर में फुलेरा तथा पाली ओपनिंग में इंडस्ट्रियल टाउनशिप एवं क्लस्टर बनाने के लिए जमीन के एक्वीजीशन से लेकर डेवेलपमेंट तक शामिल है जिसमे फण्ड की आवश्यकता है। फोर्टी कार्यकारिणी सदस्य विजय गोयल ने बताया की फोर्टी का यह भी सुझाव है की राजस्थान में किले, महल, पहाड़ वन क्षेत्रए धार्मिक क्षेत्र बहुत अधिक संख्या में है इसलिये टूरिज्म को इंटरनेशनल स्टैण्डर्ड का बनाने के लिए एडिशनल फण्ड चाहिएए जिससे एम्प्लॉयमेंट भी बढ़ेगा।