Dainik Navajyoti Logo
Thursday 17th of October 2019
झालावाड

मां व तीन बच्चों के शव मिले, मुखिया फरार

Tuesday, October 08, 2019 01:35 AM
सुनेल। संदिग्ध मौत की परिजनों से जानकारी लेते हुए एसपी।

 सुनेल।  झालावाड़ जिले के सुनेल थाना क्षेत्र के गांव ढाबला खींची में मंगलवार को एक ही परिवार की महिला एवं तीन बच्चों के संदिग्ध हालत में शव मिले। शुरूआती जांच में मामला हत्या का लग रहा है। परिवार का मुखिया फरार है। 

     परिजनों ने अंदेशा जताया कि कर्ज चुकाने के दबाव के चलते परिवार के मुखिया ने यह कदम उठाया। घटना की जानकारी पर पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी तुरंत मय पुलिस जाप्ते के घटना स्थल पहुंचे। मौका मुआयना किया और परिवार के मुखिया की तलाश करने के निर्देश जारी किए। पुलिस उपाधीक्षक पिड़ावा, उपाधीक्षक भवानीमंडी, एसएचओ जितेंद्र सिंह मय जाब्ते के वहां पहुंचे।
    परिवार के 4 सदस्यों के शव बरामदे के बाद वाले कमरों में मिले। मुखिया की पत्नी जाहिदा बी के मुंह पर झाग थे, पुत्र अल्फेज के गले में रस्सी बंधी थी, शव जमीन पर पड़ा था।  दो पुत्री के शव एक के गले में रस्सी बंधी थी तो दूसरे के गले में दुपट्टा बंधा था। जिनका शव बगल वाले कमरे में मिला। जिस मकान में शव मिले वह 2 माह से ताला बंद था। जिससे पता चलता है कि हत्या अन्य जगह हुई, लाश यहां लाए।
    परिवार का मुखिया परिवार के साथ इसके बगल वाले रिश्तेदार के मकान मेंं किराए से रह रहा था। उस स्थान से घटना स्थल पर छत के रास्ते से आ जा सकते हैं। यहां जाहिदा बी 40 वर्ष, मुस्कान 14 वर्ष, अल्फिया 12 वर्ष, अल्फेज 10 वर्ष के शव मिले। पुलिस ने शव बरामद कर राजकीय इब्राहिम सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुनेल में मेडिकल टीम से पोस्टमार्टम करा परिजनों के सुपुर्द किए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया, आरोपी की तलाश जारी है।
 मुखिया सुबह से फरार
  एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि ढाबला खींची में शव मिलने की सूचना पर थानाधिकारी गांव पहुंचे। मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। घटना को बारीकी से मुआयना कर अनुसंधान के निर्देश दिए। मृतकों के गले में निशान थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर आगे कार्रवाई की जाएगी। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार मुखिया शाकिर पर कर्ज काफी ज्यादा था। मुखिया शाकिर सुबह 5:30 बजे से फरार है। इसकी तलाश जारी है। 
   इधर, मृतका के जेठ इकबाल ने बताया कि मेरे छोटे भाई की पत्नी और तीन बच्चों की सूचना पड़ौसियों ने दी कि वह सभी मृत अवस्था में पड़े हैं। इकबाल ने बताया कि शाकिर से कल सुनेल से कुछ लोग पैसे मांगने आए थे। मेरे भाई ने उसका मकान भी राजू गुर्जर के यहां गिरवी रखा था, हो सकता है उसके असर में यह कदम उठा लिया।