Dainik Navajyoti Logo
Sunday 15th of September 2019
बाड़मेर

किसानों के लिए कृषि के नये आयाम स्थापित होेंगे: कैलाश चौधरी

Tuesday, June 11, 2019 00:10 AM

गुड़ामालानी। किसान को बाजार उपलब्ध करवाना बहुत जरूरी है। साथ ही फसलों के लिए स्टोरेज की व्यवस्था करनी होगी, जहां वह उसे सही समय पर बेचने के लिए रख सकें। इसी तरह फसल की प्रोसेसिंग की भी उसे व्यवस्था देनी होगी। जैसे आलू है तो उसके चिप्स बना सकें। अनार है तो जूस तैयार कर सकें ऐसी इकाइयां लगाई जाएं, जिससे रोजगार भी बढ़े।  उक्त उदगार केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कृषि विज्ञान केन्द्र गुड़ामालानी में आयोजित खरीफ किसान मेला 2019 में मुख्य अतिथि के रूप में कही।


साथ ही उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करने के लिए हम सभी को मिलकर संयुक्त रूप से प्रयास करेगे। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने किसान सम्मान निधि योजना के तहत प्रत्येक काश्तकार को 6000 रुपए एवं पशुओं के इलाज के लिए जोर देते हुए राशि देने का काम किया है। किसानों के लिए कृषि के नये आयाम स्थापित होगें तभी मोदीजी का सपना साकार होगा। मंत्री द्वारा कृषि विज्ञान केन्द्र के कार्यालय के साथ साथ मृदा एवं जल परीक्षण प्रयोगशाला, संग्रहालय का अवलोकन किया तत्पश्चात मेले में लगी हुई विभिन्न प्रदर्शनियों का अवलोकन करते हुए बारिकी से जानकारी प्राप्त की।  


विभिन्न समस्याओं का हुआ निदान
केन्द्र प्रभारी डॉ. प्रदीप पगारिया ने बताया कि आने वाले खरीफ को ध्यान में रखते हुए उक्त मेले का आयोजन किया गया। जिससे किसान नवीन तकनीक उन्नत किस्म के बीज, मृदा जांच, बीज उपचार, पशुओं के बारे में जानकारी, चारे के बारे में जानकारी इत्यादि प्राप्त कर सकें। आयोजित किसान मेले का आयोजन कृषि विज्ञान केन्द्र गुड़ामालानी एवं दांता (बाड़मेर), कृषि विभाग, भारतीय किसान संघ, केयर्न, वेदान्ता, श्योर, बायफ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया।


कृषि विश्वविद्यालय जोधपुर के निदेषक प्रसार शिक्षा डॉ. ईश्वर सिंह ने कहा कि कृषि विश्वविद्यालय के द्वारा कृषक हितार्थ किये जा रहे कार्यो पर प्रकाश डाला एवं भविश्य में केन्द्र पर किये जाने वाले कार्यों की जानकारी प्रदान की।  इस दौरान डॉ. एस.के. सिंह निदेशक अटारी जोन द्वितीय जोधपुर, डॉ. ओ.पी. यादव निदेशक काजरी जोधपुर, कृषि विष्वविद्यालय जोधपुर के डॉ. जे.आर. वर्मा, डॉ. एसके. मूंड, डॉ. एम.एम. कुमावत, डॉ. राकेश चोधरी, काजरी के डॉ. अख्तसिंह, कृषि विज्ञान केन्द्र दांता बाड़मेर के शंकर लाल कांटवा, बीआर मोरवाल, बीएल डांगी, डॉ. सोनाली शर्मा, हंसराज सैन, डॉ. हरि दयाल चौधरी आदि ने अपने-अपने विषय से संबंधित कृषि तकनीकि किसानों तक पहुंचाई।


कृषक हितार्थ के कार्यों के बारे में बताया
कृषि विभाग के उपनिदेषक किशोरी लाल वर्मा ने कृषि विभाग की योजनाओं के साथ-साथ ही फसल बीमा योजना पर विस्तार से जानकारी प्रदान की। उद्यान विभाग के सहायक निदेशक जांगिड़ ने उद्यान विभाग की विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान की। पशुपालन विभाग के डॉ. वीसी विश्नोई ने विभाग की योजनओं के साथ-साथ टीकाकरण, डी-वर्मींग के बारे में विस्तारपूर्वकबताया।


यह थे मौजूद
उपप्रधान राणा कुलदीप सिंह, काजरी के प्रधान वैज्ञानिक डॉ. प्रवीण कुमार, भाजपा संगठन मंत्री केके बिष्नोई, आदू राम मेघवाल, व्यापार मण्डल अध्यक्ष पुरुषोत्तम जैन, बालाराम मूंड, भारतीय किसान संघ के प्रान्त अध्यक्ष दलाराम, हरिराम मांजू, जिलामंत्री प्रहलाद सियोल, तहसील अध्यक्ष कृष्ण कुमार कलबी, भाजपा जिलाध्यक्ष महेश वी चौहान के साथ ही प्रगतिशील काश्तकार, विभिन्न विभागों के अधिकारी विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि, भारतीय किसान संघ के सदस्य एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। कार्यकम के तहत मंत्री महोदय द्वारा कृषि विज्ञान केन्द्र प्रांगण में वृक्षारोपण किया। अतं में आये हुए सभी का केन्द्र प्रभारी प्रदीप पगारिया द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया।